लौट आई लवकुश की जोड़ी, RLSP का JDU में विलय, नीतीश के शरण में आए कुशवाहा

Patna: पटना के JDU दफ्तर में भरत मिलाप हुआ। बड़े भाई ने छोटे भाई को गले लगा लिया। इस तरह से उपेन्द्र कुशवाहा आज से जेडीयू के हो गये। इसी के साथ RLSP का जेडीयू में विलय हो गया। JDU  प्रदेश कार्यालय में आयोजित मिलन समारोह में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने छोटे भाई उपेन्द्र कुशवाहा को फिर से पार्टी में शामिल कराया। सबसे बड़ी बात यह रही कि इस कार्यक्रम में जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह को छोड़ अन्य सभी नेता मौजूद रहे। उपेन्द्र कुशवाहा को जेडीयू पार्टी के राष्ट्रीय संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष बनाया गया है। खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसका ऐलान किया।

कुशवाहा JDU संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष बने CM नीतीश ने कहा कि  ‘हमलोग राजनीत करते हैं लेकिन राजनीत का मतलब किसी खास वर्ग को ले कर चलना नहीं बल्कि सबको साथ लेकर चलना है। अब उपेन्द्र जी आ गये सबको मिल कर चलना है। आपका कोई ख्वाईश नहीं है लेकिन हमलोग आपके लिये सोचेंगे, आपकी प्रतिष्ठा है, आपकी हैसियत है। हमारी जो इच्छा थी उसे ऐलान कर रहे हैं’  सीएम नीतीश ने मिलन समारोह में एलान किया कि तत्काल प्रभाव से उपेन्द्र कुशवाहा को जेडीयू राष्ट्रीय संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष बनाया जाता है। घोषणा के बाद सीएम नीतीश ने वहां मौजूद लोगों से कहा कि आपलोग खुश हैं न….हाथ उठाइए। इसके बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि आगे और भी सोचेंगे।

जेडीयू में शामिल होने के बाद उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि यह दल हमारे लिये नया नहीं है। आज का मिलन तो सिर्फ औपचारिकता थी। जब हम अलग दल बनाये तो कई उतार-चढ़ाव हुए। इस बार के चुनाव में जनता का सीधा आदेश हुआ कि उपेन्द्र कुशवाहा जी आप बिना देर किये नीतीश कुमार के साथ हों। हमलोगों ने काफी समय तक नीतीश कुमार के साथ मिलकर संघर्ष किया था। हम लोग वैसे लोगों के मंसूबा को कामयाब नहीं होने देंगे जो नीतीश कुमार को कमजोर करने की ताक में थे। इसलिए जनता के आदेश पर हम आज से नीतीश कुमार के नेतृत्व में काम करेंगे। आज से पूरी आरएलएसपी जेडीयू का हो गया है।

क्या तय हुआ है ? इस सवाल पर उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि हम बिना शर्त घऱ में लौटे हैं। नीतीश कुमार के नेतृत्व में सेवा करने का फैसला लिया है। लोग पूछ रहे कि क्या तय हुआ है, लेकिन यह गलत बात है। आगे नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार की सेवा करेंगे। जीवन का जो भी शेष है अब इनके नेतृत्व में काम करेंगे। नीतीश कुमार जो भी जवाबदेही देंगे वो काम करेंगे, अगर नहीं देंगे फिर भी हर कार्यकर्ता काम करेगा। पार्टी को और मजबूती देने की जरूरत है। कुशवाहा ने कहा कि अब जेडीयू के हो गये हैं । फिर से नंबर वन पार्टी बनाने का काम करना है। कुशवाहा ने कहा कि नीतीश जी आप काम करते रहिए, हम सब आपके साथ खड़े हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *